A- A A+
Last Updated : Apr 9 2020 9:47AM     Screen Reader Access
News Highlights
PM Modi interacts with political party leaders; says govt's priority is to save each and every life            Prez Trump thanks India on decision to allow Hydroxychloroquine export to US            First installment of relief package to 20 crore women Jan Dhan account holders released            SC directs COVID-19 tests in approved labs to be conducted free of cost            20 COVID-19 hotspots sealed in Delhi to tackle spread of virus; UP govt seals hotspots in 15 districts           

Text Bulletins Details


समाचार प्रभात

0800 HRS
26.03.2020
मुख्य समाचारः-
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने फिर कहा कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने का एक मात्र उपाय भीड से बचना और अन्‍य लोगों से सुरक्षित दूरी बनाकर रहना है।
गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन के दौरान कुछ और लोगों तथा सेवाओँ को छूट देने से संबंधित नये दिशा-निर्देश जारी किए।
सरकार ने देशभर के सभी टोल प्‍लाजाओं पर कर संग्रह को अस्‍थायी रूप से स्‍थगित करने का आदेश दिया। 
रेलवे ने यात्री ट्रेन सेवाओं को रद्द रखने की अवधि अगले महीने की 14 तारीख तक बढाई। 
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन से फोन पर बात की। वैश्विक स्‍तर पर एकजुट होकर कोविड-19 महामारी से निपटने का आह्वान किया।
जी-ट्वेंटी देशों के नेता कोविड-19 पर आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए असाधारण शिखर बैठक में भाग लेंगे। 

-----

 
प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने फिर कहा है कि कोविड-19 महामारी के फैलने पर रोक लगाने का एकमात्र उपाय भीड़ से बचना और अन्‍य लोगों से पर्याप्‍त दूरी बनाकर रहना है। उन्‍होंने कहा है कि यह वायरस भेदभाव नहीं करता और किसी भी व्‍यक्ति को संक्रमित कर सकता है। वीडियो कांफ्रेंस के जरिए वाराणसी के लोगों से बातचीत के दौरान श्री मोदी ने कहा कि कुछ लोग ज्ञानी होने के बावजूद इस चेतावनी पर ध्‍यान नहीं दे रहे हैं और यह दुर्भाग्‍यपूर्ण है। उन्‍होंने कहा कि महाभारत की लड़ाई 18 दिन में जीती गई और कोरोना वायरस के खिलाफ यह लड़ाई पूरा देश लड़ रहा है जिसमें 21 दिन लगेंगे।

साथियों याद कीजिए महाभारत का युद्ध 18 दिन में जीता गया था। आज कोरोना के खिलाफ जो युद्ध पूरा देश लड रहा है उसमें 21 दिन लगने वाले हैं। हमारा प्रयास है इसे 21 दिन में जीत लिया जाए। महाभारत के युद्ध के समय भगवान श्रीकृष्‍ण महारथी थे, सारथी थे। आज 130 करोड महारथियों के बलबूते पर हमें कोरोना के खिलाफ इस लडाई को जीतना है। इसमें काशीवासियों की भी बहुत बड़ी भूमिका है। काशी के बारे में कहा गया है मुक्ति जन्म महि जानि ज्ञान खानी अदहानि कर्म।
 
श्री मोदी ने लोगों को सलाह दी कि वे कोई भी दवाई लेने से पहले अपने डॉक्‍टरों से बात जरूर करें। उन्‍होंने साफ तौर पर कहा कि अभी तक कोरोना वायरस की कोई दवाई या टीका मौजूद नहीं है। उन्‍होंने लोगों को आगाह किया कि वे संक्रमण फैलने के बारे में अफवाहों पर भरोसा न करें। प्रधानमंत्री ने कोविड-19 संक्रमण के बारे में जानकारी देने के लिए बनाई गई व्‍हाट्सऐप हेल्‍पलाइन का जिक्र भी किया।
 
कोरोना से संक्रमित दुनिया में एक लाख से अधिक लोग ठीक भी हो चुके हैं और भारत में भी दर्जनों लोग कोरोना के शिकंजे से बाहर निकले हैं। मैं आपको यह भी जानकारी देना चाहता हूं कि कोरोना से जुडी सही और सटीक जानकारी के लिए सरकार ने व्‍हाट्सप के साथ मिलकर एक हेल्‍प डेस्‍क भी बनायी है। अगर आपके पास व्‍हाट्सप की सुविधा है तो मैं एक नंबर लिखवाता हूं लिख लीजिए 9 0 1 3 1 5 1 5 1 5 पर आप व्‍हाट्सप करके इस सेवा से जुड सकते हैं।
 
प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि वे डॉक्‍टरों, विमान चालक दल के सदस्‍यों और जरूरी सेवाओं से जुड़े कर्मचारियों के साथ कुछ लोगों के दुर्व्‍यवहार से बहुत व्‍यथित हैं। श्री मोदी ने कहा कि ऐसे दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि डॉक्‍टर और नर्सें भगवान के अवतार हैं और वे खुद को खतरे में डालकर लोगों का जीवन बचा रहे हैं, इसलिए उनका सम्‍मान होना चाहिए। श्री मोदी ने लोगों से यह भी आग्रह किया कि वे संकट की इस घड़ी में गरीबों की मदद के लिए आगे आएं और अगले 21 दिन तक प्रतिदिन नौ गरीब परिवारों की मदद करें।
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि आपदा की इस घड़ी में काशी लोगों को राह दिखाने के साथ देश को धैर्य, करुणा और शांति का पाठ पढ़ा सकती है। वाराणसी के लोगों से बातचीत के दौरान श्री मोदी ने लोगों के सवालों के जवाब भी दिए। 

-----

   
गृहमंत्रालय ने 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान कुछ और लोगों और सेवाओँ को छूट देने से संबंधित नये दिशा-निर्देश जारी किये हैं। इन दिशा-निर्देशों के तहत मंत्रालय ने भारतीय रिजर्व बैंक और उसके द्वारा संचालित वित्तीय बाजारों, नियंत्रक और महालेखा परीक्षक कार्यालय के वेतन और लेखा अधिकारियों तथा क्षेत्रीय अधिकारियों, पेट्रोलियम पदार्थों की सप्लाई तथा वन विभाग के कर्मचारियों को छूट दी है। हवाई अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर सामान संचालन और कोयला खनन गतिविधियां में लगे लोगों, दिल्ली स्थित स्थानीय आयुक्त कार्यालयों तथा बंदरगाहों, हवाई अड्डों और भूमि सीमाओं पर तैनात अधिकारियों और कर्मचारियों को भी छूट के दायरे में रखा गया है।
 
इसके अलावा प्राणी उद्यानों और पौधशालाओं, वन्यजीव, वनों में आग की रोकथाम, पौधों को पानी देने तथा वनों की रक्षा में लगे कर्मचारियों को भी लॉकडाउन से छूट दी गई है। बाल आश्रयों, दिव्यांगजनों, वरिष्ठ नागरिकों, बेघर महिलाओं, विधवाओं से जुड़े सामाज कल्याण विभाग के कर्मचारियों तथा पेंशन सेवाओं को भी छूट दी गई है।

-----

 
राजस्थान में कोविड-19 से संक्रमितों की संख्या 38 हो गई है। राज्य में कल जांच के दौरान छह लोग संक्रमित पाए गए। भीलवाड़ा और झुनझुनू में कर्फ्यू और अन्य क्षेत्रों में लॉकडाउन लागू है। भीलवाड़ा में सबसे अधिक 17 लोग संक्रमित पाए गए। हमारे संवाददाता ने बताया है कि स्थिति को देखते हुए राजस्थान सरकार ने कई कदम उठाए हैं।


मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्य के सभी सक्षम परिवारों से अपील की है कि वे अपने साथ-साथ दो गरीब परिवारों के भोजन की व्यवस्था भी करें। साथ ही उन्होंने सभी नागरिकों को आश्वस्त किया कि आवश्यक वस्तुओं की सप्ताई चैन बाधित नहीं होगी तथा जरूरी वस्तुओं की दुकानें रोजाना खुली रहेंगी। राज्य सरकार ने दूध, फल, सब्जी जैसे जरूरत के सामान की सप्लाई लोगों के घर तक सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं। सरकार ने यह भी स्पष्ट किया कि मंडियों में अनाज की खरीद फरोख्त जारी रहेगी। लॉकडाउन के दौरान रोजी-रोटी से वंचित परिवारों को एक-एक हजार रूपये की तात्कालिक सहायता के लिए सरकार ने 310 करोड़ रूपये स्वीकृत किये हैं। संकट की इस घड़ी में सरकारी, गैरसरकारी, सामाजिक, व्यावायिक, धार्मिक तथा गैर सरकारी संगठनों ने जरूरतमंद लोगों की मदद करना शुरू कर दिया है।  जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।

-----

 
देश में कोरोना वायरस के परीक्षण के 29 निजी प्रयोगशाला संगठनों को स्‍वीकृति प्रदान की गई है। इन निजी प्रयोगशाला संगठनों के देश भर में 16 हजार संग्रह केन्‍द्र हैं। इसके अलावा एक सौ 18 सरकारी प्रयोगशालाओं को भी परीक्षण की स्‍वीकृति दी गई है और ये रोजाना 12 हजार नमूनों का परीक्षण करने में सक्षम हैं। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने कल नई दिल्‍ली में कहा कि सरकार लगातार अपने परिक्षण संबंधी बुनियादी ढांचे का विस्‍तार कर रही है।

अब तक हमारी 118 सरकारी लैव है, जहां पर कि हमारी टेस्टिंग फैस्लिटीज अवेलेवल है और इसके तहत हम  देश में करीब 12 हजार सैम्पल प्रतिदिन करने के लिए तैयार हैं। इसके साथ ही येडुक्येट जॉगरिफिकल अवलेवल के लिए हमने प्राइवेट लैब्स जो कि एनएवी इलेक्ट्रेड लैव्स है उनको भी हमने कवर किया है। अब तक 29 लैब चैन को इसकी परमीशन दी जा चुकी है और उन लैब चेन के अंडर में अभी अपरोक्समेटिली 16 हजार कलेक्शन सेंटर हैं तो जिसके द्वारा भी  जो हम कलेक्शन कर पाएंगे और जल्दी से जल्दी ये सर्विस प्रोवाईड कर पाएंगे जो भी ये लैब्स हैं इनको आईसीएमआर की जो गाईडलाइन है और जो सैम्पल कलेक्शन के जो नॉर्म्स हैं कि किस किस आदमी का सैम्पल कलेक्ट होना चाहिए, किस किस आदमी  की टेस्टिंग होनी चाहिए ये सारे नॉर्म्स इन लैब को फॉलो करने हैं।
 
श्री अग्रवाल ने यह भी कहा कि हाइड्रोक्‍सी-क्‍लोरोक्‍वीन का सेवन डॉक्‍टर के परामर्श पर ही किया जाना चाहिए।
एक दवाई जो है हाइड्रोक्सिल क्लोरीक्लीन वह दवाई हमने दो पर्टिकुलर केसेज के लिए ही अलाऊ की है, जोकि प्रोफाईल एक्सेस के रूप में काम करेगी जो केवल दी जा सकती है हेल्थकेयर वर्कर जो कि सस्पेक्टेड  या कन्फर्म केस से डील कर रहे हैं। या उन कन्फर्म केसेस में जिनमें कि जो उनके फर्स्ट कॉन्टेक्ट हैं उनको दी जा सकती है कि जो ये  परमिशन दी गई है, प्लीज इसको  इन लोगों के अलावा इस दवाई को कोई न ले। ये डायरेक्शन बड़ी टेक्नीकली डिफाइंड डायरेक्शन्स है इसका पूर्णत: अमल हो।
 
मुंह पर लगाये जाने वाले मास्‍क और अन्‍य व्‍यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों की देश में उपलब्‍धता का जिक्र करते हुए श्री अग्रवाल ने कहा कि सरकार स्थिति से पूरी तरह अवगत है और इन वस्‍तुओं का पर्याप्‍त भंडार बनाने के सभी प्रयास कर रही है। उन्‍होंने कहा कि देश में कोविड-19 के सामुदायिक फैलाव का अब तक कोई प्रमाण नहीं मिला है।
 
श्री अग्रवाल ने कहा कि राज्‍य और जिला अधिकारियों से ई-कॉमर्स गतिविधियों को बढ़ावा देना और लोगों को उनके घरों पर ही आवश्‍यक वस्‍तुएं उपलब्‍ध कराने को कहा गया है। उन्‍होंने बताया कि कोविड-19 के बारे में उच्‍चस्‍तरीय मंत्री समूह की बैठक में महामारी से निपटने की तैयारियों पर चर्चा की गई।

-----

 
सरकार ने कहा है कि देश में आवश्यक वस्तुओं की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी और ये उपलब्ध रहेंगी। मंत्रिमंडल के फैसलों के बारे में कल नई दिल्ली में सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि घबराने की कोई जरूरत नहीं है। उन्‍होंने इस बात पर जोर दिया कि 21 दिन का लॉकडाउन हमारे, हमारे समाज के और हमारे देश के हित में है। सूचना और प्रसारण मंत्री ने लोगों से अफवाहों पर ध्‍यान न देने को भी कहा।
बहुत सारी अफवाहें उड़ती है उस पर विश्वास न करें। सही जानकारी के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय ने जो उनका डेशबोर्ड है एमओएचएफडब्ल्यू डॉट जीओवी डॉट इन वो शुरु किया है। हर घंटे की जानकारी मिलती है और आपके कुछ सवाल होंगे तो उसका भी जबाव मिलता है।
 
श्री जावडेकर ने कहा कि अनुबंध पर काम करने वाले कर्मचारियों को भी तालाबंदी के दौरान ड्यूटी पर माना जाएगा और उन्हें भुगतान मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि करीब 80 करोड़ लोगों को गेहूं 2 रुपये प्रति किलोग्राम और चावल 3 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से दिया जाएगा।

-----

 
कोविड-19 के मद्देनजर केन्द्र सरकार ने देशभर के सभी टोल प्लाजाओं से कर संग्रह को अस्थाई रूप से स्थगित करने का आदेश दिया है। एक ट्वीट में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि इससे आपातकालीन सेवाओं की आपूर्ति में तेजी आएगी और समय की बचत होगी। उन्‍होंने कहा कि सड़कों की मरम्‍मत जारी रहेगी और आपातकालीन संसाधन टोल प्‍लाजा पर पहले की तरह मौजूद रहेगा।

-----

 
भारतीय रेलवे ने यात्री ट्रेन सेवाओं को रद्द रखने की अवधि अगले महीने की 14 तारीख तक बढ़ा दी है। इससे पहले रेलवे ने सभी यात्री ट्रेन सेवाओं को 22 मार्च की मध्य रात्रि से 31 मार्च तक निलंबित रखने की घोषणा की थी। 21 दिन के लॉकडाउन की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की घोषणा को देखते हुए रेलवे ने यह निर्णय लिया है। आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने के लिए मालगाड़ियों का संचालन जारी रहेगा।

-----

 
मध्यप्रदेश में वैश्विक महामारी कोविड-19 को रोकने के लिए चल रहे लॉकडाउन के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रभावित लोगों को राहत पैकेज देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने कल वीडियो कन्फ्रेंस से राज्य में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की।  

मध्य प्रदेश में अब तक एक महिला की मृत्यु सहित कोरोनोवायरस के 15 पॉजिटिव केस सामने आए हैं। इंदौर और उज्जैन से कोरोनावायरस के मामले सामने आने के बाद अधिकारियों ने दोनों शहरों में कर्फ्यू लगा दिया है। जबलपुर और भोपाल में पहले ही कर्फ्यू लागू है। आम लोगों को राहत देने के लिए मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि सभी सामाजिक सुरक्षा पेंशनरों को दो महीने का अग्रिम भुगतान मिलेगा। इसके अलावा, मजदूरों को एक-एक हजार रुपये की सहायता दी जाएगी, जबकि आदिवासी परिवारों के खाते में दो महीने की अग्रिम राशि जमा की जाएगी। मध्यान भोजन योजना के तहत 65 लाख 91 हजार छात्रों के खातों में 156 करोड़ रुपये भेजे जायेंगे। इस बीच, राज्य के सभी 52 जिलों में बंद का कड़ाई से पालन किया जा रहा है । सभी जिलों में कर्फ्यू जैसी स्थिति है, हालांकि आवश्यक सेवा और सामानों की आपूर्ति भी सुनिश्चित की जा रही है। 

-----

 
कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदियुरप्पा आज वैश्विक महामारी कोविड-19 की रोकथाम के लिए जिला उप-कमिश्नरों से बातचीत करेंगे। मुख्य सचिव विजय भास्कर ने कल उप-कमिश्नरों को सभी जिलों में किराना की दुकानों और सुपर बाजारों को खोलने का निर्देश दिया। हमारे संवाददाता की रिपोर्ट...
सिविल डिफेंस सोसायटी के कमांडिंग ऑफिसर पी.आर.एस. चेतन ने कहा है कि उनके सेवाकर्ता भीड़ नियंत्रण पर ध्यान देंगे। स्थनीय नगर पालिका द्वारा डिसिफेंसेंट का छिड़काव किया जा रहा है। बेगलुरू पुलिस कमिश्नर भास्कर राव ने जानकारी दी है कि गृहमंत्रालय के आदेशानुसार आवश्यक सेवाकर्ताओं को कर्फ्यू सेवा पासेस मुहैय्या किए जाएंगे। नगर बस सेवा निगम द्वारा आज 180 बसे चलाई जाएंगी। आवश्यक सेवाकर्ता जिनके पास सरकारी आईडी कार्ड या कर्फ्यू पासेस हैं उन्हें सेवा प्रदान करेगी। कई शहरों में समाज सेवा संगठन आगे आए हैं जो पुलिस, सफाई कर्मचारी और स्वास्थ्य कर्मचारियों के खाने का प्रबंध कर रही हैं। सुधीन्द्रा, आकाशवाणी समाचार, बेंगलुरू। 

-----

 
केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय ने कोविड-19 के विरुद्ध लड़ने के लिए बिहार सरकार को अपने सांसद निधि से एक करोड़ पच्चीस लाख रुपये दिए हैं। हमारे संवाददाता ने बताया कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में केन्द्रीय सरकार में शामिल भाजपा के सभी मंत्रियों, पार्टी के विधायकों और विधान परिषद के सदस्य भी मुख्यमंत्री राहत कोष में योगदान करेंगे।
कोरोना वायरस संक्रमण से उत्पन्न स्थिति का मुकाबला करने के लिए सहयोग राशि देने का सिलसिला जारी है। नीतीश कुमार मंत्रीमंडल के भाजपा कोटे के मंत्रियों ने एक-एक लाख रूपए  मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए जाने का निर्णय लिया है। इसके अलावा भाजपा के एमएलए और एमएलसी एक-एक महीने  का वेतन राहत कोष में देंगे। इस बीच उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने पार्टी के सभी विधायकों और विधान पार्षदों को अपने-अपने क्षेत्रों में यह सुनिश्चित  करने को कहा है कि संबंधित इलाकों में आवश्यक सामग्रियों की कोई कमी न हो। उप मुख्यमंत्री ने जमाखोड़ी कर अधिक कीमत पर बेचने वालों के खिलाफ कड़ी  कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। आकाशवाणी समाचार के लिए पटना से कृष्णकुमार लाल। 

-----

 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लॉकडाउन को पूर्ण समर्थन देने के लिए प्रदेश की जनता को बधाई दी है। उन्होंने अधिकारियों को यह भी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि सार्वजनिक स्थानों पर कोई व्यक्ति भूखा न रह जाय। ब्यौरा हमारे संवाददाता से-
राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने ऐलान किया है कि मुख्यमंत्री के आदेशानुसार अब अस्पतालों की त्रि स्तरीय व्यवस्था बनाई जा रही है। जिला अस्पतालों और जिलों के मेडिकल कॉलेज लेवल 2 स्तर के होंगे जबकि गंभीर मरीजों का इलाज लेवल 3 के चुनिंदा अस्पतालों में किया जायेगा जिसमें लखनऊ स्थित पीजीआई, किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय और मेरठ मेडिकल कॉलेज शामिल है। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि किसी आपातकाल की स्थिति में फंसे लोग और गर्भवती महिलाएं मदद के लिए स्वास्थ्य विभाग के हेल्पलाइन नंबर 108 और 102 पर फोन कर सकते हैं और उन्हें अस्पताल में पहुंचाने का इंतजाम किया जायेगा। अगर हाल ही में विदेश यात्रा से लौटे किसी व्यक्ति में संक्रमण के लक्षण नजर आते हैं तो वो हेल्पलाइन नंबर 18001805145 पर फोन कर सकता है। इस बीच प्रदेश के श्रम विभाग ने स्पष्ट किया है कि वो सभी पंजीकृत मजदूर जिन्हें आइसोलेशन में रखा जाता है उन्हें पूरे 28 दिनों का वेतन दिया जायेगा। सुशीलचंद्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।

-----

 
छत्तीसगढ़ सरकार ने लॉकडाउन के दौरान आम लोगों की असुविधाओं को कम करने के लिए कई कदम उठाए हैं। मॉस्क और सैनिटाइजर की काला बाजारी और मुनाफाखोरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। एक रिपोर्ट-
छत्तीसगढ़ में एक ओर जहां लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है, वहीं, दूसरी ओर इस बात के भी प्रयास किए जा रहे हैं कि लोगों को जरूरी वस्तुओं के लिए परेशानी न उठानी पड़े। कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रशासन द्वारा दुकानों के सामने एक मीटर के दायरे में चूने से घेरा बनाया जा रहा है, ताकि लोग एक सुरक्षित दूरी पर खड़े रहें। लॉकडाउन के दौरान बेसहारा लोगों को परेशानी न हो, इसके लिए राज्य सरकार ने स्वैच्छिक और स्वयंसेवी संस्थाओं से ऐसे लोगों के लिए भोजन के पैकेट तैयार कर वितरित करने की अपील की है। इसके अलावा मास्क और सैनिटाईजर की कालाबाजारी और मुनाफाखोरी को रोकने करने वाले मेडिकल स्टोर्स संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। चैत्र नवरात्र के दौरान लोगों की श्रद्धा के साथ ही उनकी सुरक्षा के मद्देनजर छत्तीसगढ़ के कुछ देवी मंदिरों में प्रबंधन ने आरती एवं अन्य अनुष्ठानों को सोशल मीडिया पर ऑनलाइन दिखाने की व्यवस्था की है। विकल्प शुक्ला, आकाशवाणी समाचार, रायपुर।

-----

   
झारखंड सरकार लॉकडाउन के दौरान प्रत्येक गरीब और जरूरतमंद परिवार को बिना राशन कार्ड के दस किलो अनाज देगी। जिन परिवारों को राशन कार्ड जारी नहीं किये गये हैं वे मतदाता पहचान पत्र दिखाकर भी अनाज ले सकते हैं।
  मुख्यमंत्री हेमेंत सोरेन ने घोषणा की है कि आपातकाल में परिवारों को मदद देने के लिए राशन की सभी दुकानों में पर्याप्त अनाज उपलब्ध कराया गया है।

-----

 
तमिलनाडु में कल कोविड-19 के आठ नए संक्रमित मामले आए जिसमें इंडोनेशिया के चार जायरीन और उनके गाइड शामिल हैं। संक्रमित लोगों को चेन्नई, सेलम, वेल्लूर, और इरोड के नजदीक पेरुनदुरई के अलग-थलग वार्ड में रखा गया है। राज्य में कोविड-19 संक्रिमतों की संख्या बढ़कर 19 हो गई है।
 
इस बीच, कुछ सकारात्मक परिणाम आए हैं। कोविड-19 से दूसरा प्रभावित व्यक्ति दो जांच के बाद ठीक पाया गया। वह उत्तर प्रदेश के रामपुर का निवासी था और हाल ही में ट्रेन से चेन्नई पहुंचा था।

-----

 
जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल गिरीशचंद्र मुर्मू ने कोविड-19 वैश्विक महामारी और उसके बाद लॉकडाउन के मद्देनजर जरूरतमंद और विस्थापितों को मदद करने वाले कई प्रस्तावों को मंजूरी दी है। इससे लगभग 35 लाख लोगों को मदद मिलने की उम्मीद है, जिसमें संगठित और गैर-संगठित क्षेत्र के कामगार, दैनिक वेतनभोगी, पेंशन धारक और आम लोग शामिल हैं। श्री मुर्मू ने श्रम और रोजगार विभाग को 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान भवन और अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण बोर्ड में पंजीकृत साढ़े तीन लाख कामगारों को खाद्य सामग्री खरीदने के लिए प्रत्येक कामगार को एक हजार रुपये जारी करने के निर्देश दिए हैं।

-----

 
नई दिल्ली का अखिल भारतीय आर्युविज्ञान संस्थान-एम्स अपने यहां उपचार करा रहे रोगियों के लिए एक दो दिन में टेलीफोन पर परामर्श देने की सुविधा आरम्भ करेगा। एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने बताया कि वे सभी रोगी जिनकी परामर्श की तारीख लॉकडाउन के कारण रद्द कर दी गई है और लम्बी बीमारी से जूझ रहे रोगी इस सुविधा के जरिये डॉक्टरों के साथ बातचीत कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि हरेक विभाग में कुछ डॉक्टर टेलीफोन पर स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का समाधान बताएंगे।

-----

 
भारतीय नौसेना ने गोवा से चार डॉक्‍टरों का एक दल पुणे भेजा है जिन्‍हें कोविड-19 के नमूनों की जांच का प्रशिक्षण दिया जाएगा। गोवा मेडिकल कॉलेज में सूक्ष्‍म जीव विज्ञान विभाग के अध्‍यक्ष डॉक्‍टर सेवियो रो‍डरिग्‍स की अगुवाई में यह दल गोवा में कोविड-19 का जांच केन्‍द्र स्‍थापित करने के सिलसिले में प्रशिक्षण लेगा।

-----

 
कपड़ा मंत्रालय ने कोविड-19 से बचाव के लिए जरूरी एन-95 मास्क, शरीर ढकने के विशेष कपड़े और मेल्टब्लोन फेब्रिक जैसे कपड़ा सामग्री के उत्पादन और आपूर्ति पर निगरानी रखने के लिए आपातकालीन नियंत्रण कक्ष बनाया है। जिस किसी व्यक्ति को एन-95 मास्क या शरीर ढकने के विशेष कपड़ों की आपूर्ति से संबंधित कोई समस्या हो वे अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं। अधिकारियों के नाम और संपर्क सूत्र मंत्रालय की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।

-----

   
सरकार ने कोविड-19 महामारी का मुकाबला करने के लिए स्वयंसेवी डॉक्टरों की सेवा लेने का फैसला लिया है। नीति आयोग की वेबसाइट पर दर्ज वक्तव्य में सरकार, सशस्त्र सेना चिकित्सा सेवा तथा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों से सेवानिवृत डॉक्टरों तथा निजी डॉक्टरों से अपील की है कि जानलेवा कोरोना वायरस से लड़ने में सरकारी प्रयासों में साथ दे। जो लोग इस कार्य में योगदान करना चाहते हैं वे नीति आयोग की  वेबसाइट में उपलब्ध लिंक पर अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

-----

 
स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों को सलाह दी है कि वे नोवल कोरोना वायरस से अपने को सुरक्षित रखने के लिए सभी बुनियादी एहतियाती उपायों का पालन करें और सुरक्षित दूरी बनाए रखें।
 
स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने लोगों को निर्देश दिया है कि वे नये कोरोना वायरस से अपने को सुरक्षित रखने के लिए सभी बुनियादी एहतियाती उपायों का पालन करें। अगर किसी व्यक्ति को खांसी और बुखार महसूस हो तो उसे तत्‍काल अपने को अन्य लोगों से अलग कर लेना है। लोगों को परामर्श दिया जाता है कि बिना हाथ धोये अपने आंख, नाक और मुंह को स्पर्श न करें। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय का निर्देश है कि बार-बार साबुन और पानी से हाथ धोना जरूरी है। अल्कोहल मिश्रित पदार्थ सैनेटाइजर से भी हाथ साफ रखे जा सकते हैं। खांसते और छींकते समय अपने नाक और मुंह पर रूमाल या टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें और इस्‍तेमाल किये गये टिश्यू पेपर को बंद कूड़ेदान में फेंकना जरूरी है। बुखार आने, सांस लेने में कठिनाई होने और खांसी की स्थिति में तत्काल डॉक्टर से परामर्श करें।  स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने चौबीसों घंटे और सातों दिन काम करने वाली हेल्पलाइन की व्यवस्था की है इसका नंबर नोट कीजिए 1075  इस नंबर से आप सलाह ले सकते हैं।

-----

 
सार्वजनिक क्षेत्र के इंडियन बैंक ने कोविड-19 महामारी को देखते हुए सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम से संबंधित बड़ी कंपनियों, खुदरा ग्राहकों, पेंशन धारकों और स्‍वयं सहायता समूहों को अतिरिक्‍त निधि-सहायता उपलब्‍ध कराने की घोषणा की है। बैंक ने कहा कि इंड-कोविड आपात क्रेडिट लाइन के अंतर्गत फंड आधारित और गैर-फंड आधारित कार्यशील पूंजी की 10 प्रतिशत  तक धनराशि अतिरिक्‍त निधि के रूप में उपलब्‍ध कराई जाएगी और इसकी अधिकतम सीमा 100 करोड़ रुपए होगी।
 
इंडियन बैंक वैतनिक कर्मचारियों को तात्‍कालिक चिकित्‍सा और अन्‍य जरूरी खर्च पूरा करने के लिए उनके मौजूदा कुल मासिक वेतन की 20 गुना धनराशि तक ऋण भी उपलब्‍ध करा रहा है। इसकी अधिकतम सीमा दो लाख रुपए रखी गई है।
 
सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम ग्राहकों के लिए इंडियन बैंक फंड आधारित कार्यशील पूंजी की 10 प्रतिशत राशि अतिरिक्‍त निधि के तौर पर उपलब्‍ध करा रहा है। पिछले सप्‍ताह भारतीय स्‍टेट बैंक ने अपने ऋणग्राहियों के लिए नकदी की समस्‍या से निपटने के वास्‍ते आपात ऋण योजना की घोषणा की थी। 

-----

 
भारत और रूस ने कोविड-19 से एकजुट होकर मुकाबला करने और जी-ट्वेंटी के ढांचागत कार्यों के भीतर इससे निपटने के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय सहयोग के महत्‍व पर जोर दिया है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने टेलीफोन पर कोविड-19 महामारी और वैश्विक हालात पर बातचीत की।
 
श्री मोदी ने रूस में इस महामारी से प्रभावित लोगों के शीघ्र स्‍वस्‍थ होने की कामना की। उन्‍होंने उम्‍मीद जताई कि‍ राष्‍ट्रपति पुतिन के नेतृत्‍व में रूस अपनी कोशिशों से इस बीमारी से कामयाबी से निपट लेगा।
 
राष्‍ट्रपति पुतिन ने भारत द्वारा कोविड-19 से निपटने के लिए उठाये गये अभूतपूर्व सफल कदमों के लिए प्रधानमंत्री को शुभकामनाएं भेजीं।
 
दोनों नेताओं ने इस तरह की बडी वैश्विक विपदा का मुकाबला करते हुए सभी चुनौतियों के लिए भविष्‍य में वार्ताओं और सहयोग बढाने पर भी सहमति जताई।
 
दोनों नेताओं ने इस तरह की बड़ी वैश्विक विपदा का मुकाबला करते हुए सभी चुनौतियों के लिए भविष्‍य में वार्ताओं और सहयोग बढ़ाने पर भी सहमति जताई

-----

 
जी-20 संगठन के सदस्यों देशों के नेता आज कोविड-19 पर संगठन के आसाधारण शिखर सममेलन में व़ीडियो  कांफ्रेंसिंग के जरिये भाग लेंगे। सऊदी अरब की अध्यक्षता में हो रहे इस सम्मेलन में कोविकड-19 संकट से निपटने की वैश्विक रणनीति पर चर्चा की जाएगी। हमारी संवाददाता ने बताया है कि इस सम्मेलन का संयोजन जी-20 संगठन का मौजूदा अध्यक्ष सऊदी अरब कर रहा है।

आज सुबह एक ट्वीट में सम्राट सलमान  ने कहा कि कोविड-19 महामारी स्वास्थ्य प्रणाली और वैश्विक अर्थव्यवस्था की चुनौतियों पर विचार करने के लिए इस आसाधारण वर्चुअल शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा कि इस चुनौति का सामना करने के लिए वैश्विक शक्तियों को एकजुट होकर प्रयास करना पड़ेगा। टी-20 सदस्य देशों के अलावा स्पेन, जोर्डन, सिंगापुर और स्विटजरलैंड को भी इस सम्मेलन में आमंत्रित किया गया है। संयुक्त राष्ट्र, विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष जैसे अंतरराष्ट्रीय संगठन भी इस बैठक में हिस्सा ले रहे हैं। इस असाधारण सम्मेलन में गल्फ कॉरपोरेशन काउंसिल, आसियान और अफ्रीका के  विकास से लिए नई भागीदारी जैसे क्षेत्रीय संगठन के अध्यक्ष देश भी मौजूद होंगे। कंचन प्रसाद, आकाशवाणी समाचार, दुबई।
   
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि कोविड-19 महामारी से निपटने में जी-20 संगठन की महत्वपूर्ण भूमिका है। एक ट्वीट में श्री मोदी ने कहा कि उन्हें आशा है कि जी-20 के वर्चुअल सम्मेलन में आज इस मुद्दे पर सार्थक चर्चा होगी।

-----

 
संयुक्त राष्ट्र ने दुनिया के सर्वाधिक गरीब देशों में कोरोना वायरस के मुकाबले के लिए दो अरब डॉलर की वैश्विक मानवीय योजना शुरू की है। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतेरस ने चेतावनी दी कि कोरोना वायरस महामारी ने पूरी  मानव जाति के लिए खतरा पैदा कर दिया है और हम सबको मिलकर इसका मुकाबला करना होगा।

-----

   
कोविड-19 के प्रसार को रोकने के सरकार के निवारक उपायों के मद्देनजर राष्‍ट्रीय पुस्‍तक न्‍यास-एनबीटी ने पुस्‍तकों की पहल के साथ स्टे होम इंडिया कार्यक्रम शुरू किया है। लोग एनबीटी की वेबसाइट डब्‍ल्‍यू डब्‍ल्‍यू डब्‍ल्‍यू डॉट एनबीटी इंडिया डॉट जीओवी डॉट आईएन से सौ से ज्‍यादा पुस्‍तकें पी‍डीएफ फारमेंट में डाउनलोड कर सकते हैं। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने बताया कि लोगों को सर्वाधिक लोकप्रिय पुस्तकें घर पर रह कर ही पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से यह पहल की गई है।

-----

समाचार पत्रों की सुर्खियों:-
  •   कोरोना से जंग 21 दिन में जीत लेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के इस दृढ़संकल्‍प को दैनिक जागरण सहित कई अखबारों ने प्रमुखता दी है। प्रधानमंत्री ने कहा, 'महाभारत के युद्ध के समय श्रीकृष्‍ण थे सारथी। आज देश की 130 करोड़ जनता हैं।' 
  •   लॉकडाउन की घोषणा के बाद आवश्‍यक वस्‍तुओं के मूल्‍य में महंगाई के रूख को देखते हुए सरकार ने मुनाफाखोरों को कड़ी चेतावनी दी। दैनिक जागरण ने लिखा है-केन्‍द्र सरकार ने राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों को तीन महीने का एडवांस राशन भारतीय खाद्य निगम के गोदामों से उठाने का निर्देश दिया, ताकि लोगों को परेशानी न हो।
  •   हिन्‍दुस्‍तान की खबर मोहल्‍लों और सोसाइटियों में घंटी बजाकर घरों में सैलेंडर पहुंचाएगा डिलीवरी ब्‍यॉय। लॉकडाउन की वजह से गैस एजेंसियां इसकी तैयारी में। पहले बुकिंग कराये बिना भी ले सकते है सैलेंडर।
  •   दैनिक जागरण ने सरोकार शीर्षक से लिखा है-कतरन से सहेज रहे सांसों की सरगम। उत्‍तर प्रदेश के दो सिलाई कारीगर-मोहम्‍मद युसूफ और मोहम्‍मद इदरीश बचे हुए कपड़ों से मॉस्‍क बनाकर निशुल्‍क बांट रहे है।
  •   हिन्‍दुस्‍तान ने सुर्खी दी है कोरोना वायरस अखबारों और मैगजीन के जरिए नहीं फैलता। अंतर्राष्‍ट्रीय न्‍यूज मीडिया संघ का स्‍वास्‍थ्‍य एजेंसियों और चिकित्‍सा विशेषज्ञों के हवाले से दावा।

-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 9 (Apr) Midday News 8 (Apr) News at Nine 8 (Apr) Hourly 9 (Apr) (0605hrs)
समाचार प्रभात 9 (Apr) दोपहर समाचार 8 (Apr) समाचार संध्या 8 (Apr) प्रति घंटा समाचार 9 (Apr) (0600hrs)
Khabarnama (Mor) 9 (Apr) Khabrein(Day) 8 (Apr) Khabrein(Eve) 8 (Apr)
Aaj Savere 9 (Apr) Parikrama 8 (Apr)

Listen Programs

Daily COVID19 Bulletin 6 (Apr) Market Mantra 8 (Apr) Samayki 8 (Apr) Sports Scan 23 (Mar) Spotlight/News Analysis 8 (Apr) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 12 (Mar) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar)
  • Money Matters 22 (Mar)
  • International News 22 (Mar)
  • Press Review 23 (Mar)
  • From the States 23 (Mar)
  • Let's Connect 22 (Mar)
  • 360°- Ek Parivesh 23 (Mar)
  • Know Your Constitution 30 (Jan)
  • Ek Bharat Shreshta Bharat 22 (Mar)
  • Sanskriti Darshan 23 (Mar)
  • Fit India New India 23 (Mar)
  • Weather Report 21 (Mar)
  • North East Diaries 22 (Mar)
  • 150 Years of Bapu 22 (Mar)
  • Sector Specific Discussions 22 (Mar)